भारत के 10 सबसे अमीर मंदिर

भारत में अनेक मंदिर हैं जो धार्मिक और सांस्कृतिक महत्व के साथ अमीरी के प्रतीक हैं। यहां हम भारत के 9  सबसे अमीर मंदिरों के बारे में चर्चा करेंगे।

WhatsApp Group Join Now
Telegram Group Join Now
Instagram Group Join Now
  • तिरुपति बालाजी मंदिर, आंध्र प्रदेश: यह मंदिर भारत के सबसे अमीर मंदिरों में से एक है। इस मंदिर का निर्माण विशेष रूप से गोल्डन विग्रहों के उपयोग से किया गया है।
  • वैष्णो देवी मंदिर, जम्मू और कश्मीर: यह मंदिर भारत के सबसे प्रसिद्ध मंदिरों में से एक है और इसे वैष्णो देवी की श्रद्धा के लिए जाना जाता है। यहां वार्षिक आय करीब 500 करोड़ रुपये है।
  • श्री सिद्धीविनायक मंदिर, मुंबई: यह मंदिर मुंबई के गणपति देव को समर्पित है और इसे भारत के सबसे अमीर मंदिरों में से एक माना जाता है। इसकी आय वार्षिक रूप से करीब 200 करोड़ रुपये है।
  • श्री जगन्नाथ मंदिर, पुरी: यह मंदिर ओडिशा में स्थित है और भारत के सबसे प्रसिद्ध मंदिरों में से एक है। इसकी आय वार्षिक रूप से करीब 150 करोड़ रुपये है।
  • श्री वेंकटेश्वर मंदिर, तिरुपति: यह मंदिर आंध्र प्रदेश में स्थित है और इसे वेंकटेश्वर के नाम से भी जाना जाता है। इसकी आय वार्षिक रूप से करीब 100 करोड़ रुपये है।
  • श्री साईं बाबा मंदिर, शिरडी: यह मंदिर महाराष्ट्रा में स्थित है और साईं बाबा को समर्पित है। इसकी आय वार्षिक रूप से करीब 80 करोड़ रुपये है।
  • श्री श्री रविशंकर मंदिर, बंगलौर: यह मंदिर कर्नाटक में स्थित है और इसे श्री श्री रविशंकर जी के नाम से भी जाना जाता है। इसकी आय वार्षिक रूप से करीब 70 करोड़ रुपये है।
  • श्री श्री लक्ष्मी नारायण मंदिर, दिल्ली: यह मंदिर दिल्ली में स्थित है और इसे लक्ष्मी नारायण के नाम से भी जाना जाता है। इसकी आय वार्षिक रूप से करीब 60 करोड़ रुपये है।
  • श्री श्री राधा मधव मंदिर, वृंदावन: यह मंदिर उत्तर प्रदेश में स्थित है और इसे राधा मधव के नाम से भी जाना जाता है। इसकी आय वार्षिक रूप से करीब 50 करोड़ रुपये है।

Leave a Comment

कोंसी टीम पाहुची आईपीएल 2024 फाइनल में जाने धोनी ने इंतजार किया लेकिन कोहली की टीम नहीं आई, तो थाला ने ये निर्णय लिया Railway Painter Vacancy: रेलवे में 8वीं पास पेंटर के पदों पर भर्ती का नोटिफिकेशन जारी क्या भारत में बंद होगा WhatsApp? दिल्ली हाईकोर्ट में कंपनी ने दी चेतावनी औजार पर नारियल तेल लगाने के फायदे