मायावती के वोटबैंक को नुकसान पहुंचाने की योजना! बीजेपी की इस कार्रवाई से BSP को झटका लगेगा?

मायावती के वोटबैंक को नुकसान पहुंचाने की योजना! बीजेपी की इस कार्रवाई से BSP को झटका लगेगा?

UP राजनीति: CM योगी आदित्यनाथ हापुड़ में अनुसूचित जाति सम्मेलन और बुलंदशहर में महिला सम्मेलन करेंगे। इस दौरान उन्हें विभिन्न योजनाओं का लोकार्पण और शिलान्यास भी करना होगा।

WhatsApp Group Join Now
Telegram Group Join Now
Instagram Group Join Now

मायावती के वोटबैंक को नुकसान पहुंचाने की योजना

लोगसभा चुनाव 2024: लोकसभा चुनाव से पहले बीजेपी (BJP) सभी जातियों को एकजुट करने में लगी हुई है। बीजेपी ने मायावती के वोट बैंक को तोड़ने की भी योजना बनाई है। पार्टी ने राज्य में महिलाओं और अनुसूचित जाति का जनाधार बढ़ाने की अपनी कोशिश को और तेज कर दिया है। योगी आदित्यनाथ (Yogi Adityanath) खुद इसकी देखरेख कर रहे हैं।

भारतीय जनता पार्टी आज से दलित सम्मेलन का आयोजन कर रही है, जिसका उद्देश्य बसपा के मूल मतदाताओं को दूर करना है। बीजेपी क्षेत्रवार दलित सम्मेलन करेगी। आज भारतीय जनता पार्टी हापुड़ में एक सम्मेलन करेगी। उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ और उत्तर प्रदेश भारतीय जनता पार्टी के प्रदेश अध्यक्ष इस सम्मेलन को संबोधित करेंगे।

मुख्यमंत्री योगी इस दौरान हापुड़ में 136 करोड़ रुपये की 102 विकास परियोजनाओं का शिलान्यास और लोकार्पण करेंगे। बुलंदशहर में 632 करोड़ रुपये की 256 परियोजनाओं का लोकार्पण और शिलान्यास होगा। यहां मुख्यमंत्री भी विभिन्न योजनाओं के लाभार्थियों को प्रमाण पत्र देंगे। बाद में सभी छह सांगठनिक क्षेत्रों में दलितों का सम्मेलन होगा और प्रत्येक विधानसभा क्षेत्र में महिला सम्मेलनों के माध्यम से दलितों को एकजुट करने का अभियान चलाया जाएगा।

CM योगी समेत ये बड़े नेता होंगे शामिल

मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ, यूपी बीजेपी प्रदेश अध्यक्ष भूपेंद्र सिंह चौधरी, राज्य सरकार के मंत्री और बीजेपी के सभी स्थानीय पदाधिकारी इस सम्मेलन में उपस्थित होंगे। प्राप्त जानकारी के अनुसार, यूपी सरकार से मंत्री बेबी रानी मौर्य, गुलाब देवी, असीम अरुण सहित अनुसूचित जाति के विधायक और सांसद इस सम्मेलन में उपस्थित होंगे।

सभी 6 संगठत्मक क्षेत्रों में होगा सम्मेलन

भारतीय जनता पार्टी ने उत्तर प्रदेश में छह संघटनात्मक क्षेत्रों में छह दिन के दलित सम्मेलन किए हैं। भारतीय जनता पार्टी इस दलित सम्मेलन में दलितों से संपर्क करेगी। 2 नवंबर को भाजपा लखनऊ में भारतीय जनता पार्टी के अवध क्षेत्र में दलितों का एक बड़ा सम्मेलन होगा।

ये लोग शामिल होंगे

भारतीय जनता पार्टी के दलित सम्मेलन में हर विधानसभा से दो हजार दलित प्रतिनिधि शामिल होंगे। सभी संघटनात्मक क्षेत्रों में होने वाले सम्मेलन में प्रत्येक जिले की सभी विधानसभा सीटों से दो-दो हजार दलित प्रतिनिधि उपस्थित होंगे। विशेष रूप से दलित समाज से आने वाले शिक्षक, इंजीनियर, डॉक्टर, वकील, शिक्षाविद और प्रोफेसरों को इसमें शामिल किया गया है।

बीजेपी अनुसूचित मोर्चे के राज्य अध्यक्ष ने क्या कहा?

भारतीय जनता पार्टी के अनुसूचित मोर्चा उत्तर प्रदेश के अध्यक्ष रामचंद्र कनौजिया ने एबीपी लाइव से बातचीत में कहा कि दलितों को जोड़ने के लिए यह महासम्मेलन हो रहा है, जिसमें केंद्र से राज्य तक के सभी मंत्रियों और पदाधिकारियों को आमंत्रित किया गया है। लाखों लोग भी इसमें शामिल होंगे।

उनका कहना था कि आज हापुड़ में ऐसे कार्यक्रम हो रहे हैं। 19 अक्टूबर को सम्मेलन अलीगढ़ में होगा, और 27 अक्टूबर को सम्मेलन काशी में होगा। 28 अक्टूबर को कानपुर में इस सम्मेलन का आयोजन किया जाएगा। उनका कहना था कि अवध क्षेत्र का सम्मेलन 2 नवंबर को लखनऊ में और 3 नवंबर को गोरखपुर में होगा।

बीजेपी की क्या योजना है?

पार्टी भी बसपा के वोटर्स पर ध्यान देती है। बीजेपी का दावा है कि दलितों ने पिछले चुनाव में बीजेपी को वोट दिया क्योंकि उनकी अधिकांश योजनाओं का लाभ इसी वर्ग को हुआ है। पार्टी भी इस वोटबैंक को बनाए रखना चाहती है ताकि यूपी में मिशन 80 के लक्ष्य को पूरा किया जा सके।

यह भी पढे 

Israel Vs Lebanon के सैन्य बल: सैन्य बल में इजरायल का आधा होने के बावजूद, ये पड़ोसी देश लगातार हमास की मदद करते हैं

Leave a Comment

कोंसी टीम पाहुची आईपीएल 2024 फाइनल में जाने धोनी ने इंतजार किया लेकिन कोहली की टीम नहीं आई, तो थाला ने ये निर्णय लिया Railway Painter Vacancy: रेलवे में 8वीं पास पेंटर के पदों पर भर्ती का नोटिफिकेशन जारी क्या भारत में बंद होगा WhatsApp? दिल्ली हाईकोर्ट में कंपनी ने दी चेतावनी औजार पर नारियल तेल लगाने के फायदे