ब्यूटी, ब्लैकमेलिंग और मर्डर मॉडल..। 3 दिन बाद भी दिव्या पाहुजा के कत्ल का राज अभी भी अनसुलझा है।

गुरुग्राम के होटेलियर अभिजीत सिंह और दिव्या पाहुजा इन दिनों प्रेम में थे। इल्जाम है कि दिव्या उससे पैसे वसूलती थी और हाल के दिनों में उसकी मांग बहुत बढ़ी है। जिससे अभिजीत परेशान हो गया।

WhatsApp Group Join Now
Telegram Group Join Now
Instagram Group Join Now

Model Divya Pahuja की हत्या का रहस्य : हरियाणा के गैंगस्टर संदीप गाड़ोली की प्रेमिका दिव्या पाहुजा की मर्डर मिस्ट्री ने एक बार फिर आरुषि हत्याकांड की यादें जगाई हैं। गुरुग्राम पुलिस को दिव्या की हत्या के महज चार घंटे बाद, यानी 2 जनवरी की रात 9 बजे, होटल सिटी प्वाइंट में उसकी हत्या हुई थी। पुलिस भी वहां पहुंची और होटल की तलाशी ली। लेकिन लाश नहीं मिलने पर वहां से भी तुरंत वापस चली गई। फिर 8 घंटे बाद पुलिस दिव्या की लाश को ढूंढने के लिए फिर से उसी होटल में पहुंची, तो लाश गायब हो चुकी थी। असल में, दिव्या की लाश को पुलिस रूम नंबर 114 में खोज रहे हैं और जबकि लाश रूम नंबर 111 में पड़ी थी.

अभिजीत ने गुस्से में चलाई थी गोली

गुरुग्राम के होटेलियर अभिजीत सिंह और दिव्या पाहुजा इन दिनों प्रेम में थे। इल्जाम है कि दिव्या उससे पैसे वसूलती थी और हाल के दिनों में उसकी मांग बहुत बढ़ी है। जिससे अभिजीत परेशान हो गया। असल में दिव्या अभिजीत की कुछ आपत्तिजनक तस्वीरें रखती थी, जिससे दिव्या उसे ब्लैकमेल करती थी। 2 जनवरी को अभिजीत ने दिव्या को होटल में इसलिए ले गया था कि वह उससे बात कर सके और उसे तस्वीरें डिलीट कर सके. दिव्या ने ऐसा नहीं किया, तो दोनों में झगड़ा हुआ और अभिजीत ने क्रोध में गोली चला दी।

CCTV रिकॉर्डिंग से हुआ खुलासा

CCTV रिकॉर्डिंग के आधार पर पुलिस ने बताया मंगलवार तड़के सुबह 4 बजकर 18 मिनट पर मॉडल दिव्या पाहुजा अभिजीत और एक अन्य व्यक्ति के साथ गुरुग्राम के सेक्टर 14 सिटी पॉइंट होटल पहुंची। तीनों होटल के अंदर गए। इनमें से तीसरे व्यक्ति की पहचान की जा रही है। पूरे दिन न तो दिव्या न ही अभिजीत होटल के कमरे से बाहर निकले। उसी दिन यानी 2 जनवरी की देर रात 10 बजाकर 44 मिनट पर ओमप्रकाश और हेमराज एक कंबल में लाश को लपेटकर बाहर निकलते हैं। अभिजीत सिंह की BMW कार में लाश को रखकर दोनों युवक निकल जाते हैं। हालांकि, पुलिस अबतक ये पता नहीं कर सकी है कि लाश कहां ले गए।

हत्या में किसकी साजिश

दिव्या के परिजनों ने मर्डर के पीछे गैंगस्टर संदीप गाडोली के परिजनों का हाथ बताया है। मॉडल की बहन ने शिकायत में बताया कि गैंगस्टर संदीप गाडोली की बहन सुदेश कटारिया और भाई ब्रह्मप्रकाश ने दिव्या की हत्या कराई है।

मॉडल दिव्या की बहन ने बताया कि दिव्या से आखिरी बार 2 जनवरी की सुबह तक बात हुई थी। फिर उसका फोन लगना बंद हो गया। परेशां होकर उसने होटल मालिक अभिजीत को कॉल किया लेकिन अभिजीत ने बात टाल दी और आनाकानी करने लगा। अगले दिन उसकी हत्या की खबर मिलने तक उससे कोई सम्पर्क नहीं हो सका था।

एनकाउंटर के 8 साल बाद हत्या

मॉडल दिव्या पाहुजा मर्डर केस किसी फिल्मी स्टोरी से बिल्कुल भी कम नहीं है। दिव्या गुरुग्राम के बलदेव नगर कि रहने वाली थी। कई साल पहले दिव्या पाहुजा हरियाणा के गैंगस्टर संदीप गडोली की गर्लफ्रेंड थी। साल 2016 में दिव्या की शिनाख्त पर ही हरियाणा पुलिस ने मुंबई के अंधेरी में एक होटल में संदीप का एनकाउंटर किया था। एनकाउंटर के वक्त दिव्या होटल कमरे में मौजूद थी। एनकाउंटर केस में दिव्या मुख्य गवाह भी थी।

8 साल बाद दिव्या की सेम पैटर्न पर हत्या पर कई सवालिया निशान खड़े कर रही है। दिव्या जिस अभिजीत के साथ होटल में गई थी उसका संदीप गाडोली के परिजनों से कोई कनेक्शन था या फिर अभिजीत ने ब्लैकमेलिंग से परेशां होकर उसकी हत्या कर दी और लाश को ठिकाने लगा दिया। दिव्या के परिजन गैंगस्टर संदीप के परिजनों की साजिश का आरोप लगा रहे हैं। ऐसे में पुलिस कई एंगल पर पूरे घटनाक्रम की जांच कर रही है।

Leave a Comment

कोंसी टीम पाहुची आईपीएल 2024 फाइनल में जाने धोनी ने इंतजार किया लेकिन कोहली की टीम नहीं आई, तो थाला ने ये निर्णय लिया Railway Painter Vacancy: रेलवे में 8वीं पास पेंटर के पदों पर भर्ती का नोटिफिकेशन जारी क्या भारत में बंद होगा WhatsApp? दिल्ली हाईकोर्ट में कंपनी ने दी चेतावनी औजार पर नारियल तेल लगाने के फायदे