Bharat Jodo Nyay Yatra: “न्याय का हक, मिलने तक”, कांग्रेस ने जारी किया, जानें खासियत

Bharat Jodo Yatra, organized by Congress: राहुल गांधी 14 जनवरी को मणिपुर से भारत जोड़ो न्याय यात्रा का नेतृत्व करेंगे। यात्रा में पंद्रह राज्यों के 110 जिले शामिल होंगे।

Congressional Bharat Jodo Yatra Updates: शनिवार (6 दिसंबर) को कांग्रेस ने राहुल गांधी के नेतृत्व में भारत न्याय यात्रा की सूचना दी है। “भारत जोड़ो न्याय यात्रा, न्याय का हक मिलने तक” शीर्षक से दो भाग हैं।

तिरंगा रंग से सजाया गया एक हिस्सा “भारत जोड़ो नया यात्रा” लिखा है। जबकि दूसरी ओर, ब्लू रंग में “न्याय का हक” और काले रंग में “मिलने तक” लिखा गया है।

14 जनवरी से यात्रा शुरू होगी

कांग्रेस अध्यक्ष मल्लिकार्जुन खरगे ने लोगो की लॉन्चिंग पर कहा कि यह यात्रा 14 जनवरी से शुरू होगी। उन्होंने कहा, “राहुल गांधी जी के नेतृत्व में हम 14 जनवरी से ‘भारत जोड़ो न्याय यात्रा’ शुरू कर रहे हैं। भारत के सामाजिक, आर्थिक, राजनीतिक और बुनियादी मुद्दों को ध्यान में रखते हुए, “भारत जोड़ो न्याय यात्रा” चल रही है।「

कांग्रेस ने भी अपने आधिकारिक एक्स अकाउंट, जो पहले ट्विटर था, पर ट्वीट करके इसके उद्घाटन की सूचना दी। पार्टी ने कहा, “आज दिल्ली स्थित AICC मुख्यालय में कांग्रेस अध्यक्ष ने ‘भारत जोड़ो न्याय यात्रा’ का लोगो लॉन्च किया।” हमारा मजबूत प्रयास, “भारत जोड़ो न्याय यात्रा”, देशवासियों को आर्थिक, सामाजिक और राजनीतिक न्याय दिलाने की ओर है।

Bharat Jodo Nyay Yatra: "न्याय का हक, मिलने तक", कांग्रेस ने जारी किया, जानें खासियत

PM पर निशाना, मणिपुर से शुरू होगी यात्रा

खरगे ने कहा कि कांग्रेस की यात्रा इंफाल, मणिपुर की राजधानी, से शुरू होगी। इस मार्च में 6700 किलोमीटर का यात्रा होगी। उनका कहना था कि सफर छह सौ छह दिनों का होगा और राहुल गांधी को हर दिन दो बार संबोधन दिया जाएगा।

खरगे ने प्रधानमंत्री मोदी को लक्षित करते हुए कहा, ‘मणिपुर में दुर्भाग्यपूर्ण घटना लगातार घटती रही। मोदी जी दिन-रात फोटो सेशन करते रहते हैं, कभी समंदर में जाकर स्वीमिंग करते हैं, तो कभी मंदिरों की निर्माणस्थलों पर जाकर फोटो लेते हैं, कभी केरल में, तो कभी बंबई में।

खरने कहा कि PM मोदी हर जगह जाकर नए-नए अपने वस्त्र पहनकर फोटो खिंचाते हैं… ये महापुरुष मणिपुर क्यों नहीं गए जहां लोग मर रहे हैं. जहां महिलाओं को रेप किया जा रहा है, जहां लोग ठंड में मर रहे हैं. वहां उनका हालचाल पूछने के लिए नहीं जा रहे हैं, क्यों नहीं जा रहे हैं? क्या वो देश का हिस्सा नहीं है? आप लक्ष्यदीप जाकर पानी में ठहरते हो, क्या आप मणिपुर जाकर लोगों को समझा नहीं सकते?’

कहां-कहां से गुजरेगी यात्रा

मल्लिकार्जुन खरगे ने बताया कि यात्रा मणिपुर, इंफाल से शुरू होगी और नागालैंड, आसाम, अरुणचाल होते हुए देश के 15 राज्यों से गुजरेगी और अंत में मुंबई में पहुंचेगी। यह यात्रा 110 जिलों से होकर 100 लोकसभा सीटें और 337 विधानसभा सीटें कवर करेगी। यह यात्रा करीब 6,700 किमी चलेगी और मुंबई में समाप्त होगी। उनका कहना था कि “भारत जोड़ो न्याय यात्रा” देश के बुनियादी सामाजिक, आर्थिक, राजनीतिक मुद्दों को हल करने के लिए चल रही है।”

Bharat Jodo Nyay Yatra: "न्याय का हक, मिलने तक", कांग्रेस ने जारी किया, जानें खासियत

गठबंधन के नेताओं को भी इन्विटेशन मिलेगा

कांग्रेस के सूत्रों ने कहा कि इस यात्रा में यूपी में सबसे लंबा 1000 किलोमीटर का रास्ता चुना जाएगा। पश्चिम बंगाल के सात जिलों में 523 किमी का सफर पांच दिनों तक चलेगा। कांग्रेस के महासचिव जयराम रमेश ने पहले ही कहा था कि विपक्षी गठबंधन के सभी नेताओं को इस यात्रा में शामिल किया जाएगा। उनका कहना था कि मार्च के अंत तक 15 राज्यों के 110 जिलों को शामिल किया जाएगा।

इससे पहले, राहुल गांधी ने कन्याकुमारी से कश्मीर तक भारत जोड़ो यात्रा की थी। 14 जनवरी से भारत जोड़ो यात्रा का दूसरा चरण शुरू होगा, जो लोकसभा चुनाव से पहले होगा।

Leave a Comment

Railway Painter Vacancy: रेलवे में 8वीं पास पेंटर के पदों पर भर्ती का नोटिफिकेशन जारी क्या भारत में बंद होगा WhatsApp? दिल्ली हाईकोर्ट में कंपनी ने दी चेतावनी औजार पर नारियल तेल लगाने के फायदे ICC T20 वर्ल्ड कप 2024 के लिए भारत की पूरी टीम ये है Google से पैसे कमाने के कई तरीके हैं, जिनमें से कुछ ये हैं