कांग्रेस ने राम मंदिर का न्योता ठुकरा दिया तो पार्टी में विवाद, पूर्व विधायक ने कहा कि नुकसान होगा

विजयसिंह

WhatsApp Group Join Now
Telegram Group Join Now
Instagram Group Join Now

कांग्रेस नेता Laxman Singh का बयान: कांग्रेस को आलोचनाओं का सामना करना पड़ा है क्योंकि वह 22 जनवरी को अयोध्या में रामलला की प्राण प्रतिष्ठा समारोह में भाग नहीं लेगी। कांग्रेस अध्यक्ष ने इसे बीजेपी-RSS का उत्सव बताते हुए न्योता ठुकरा दिया। कांग्रेस के नेता ही पार्टी के निर्णय पर सवाल उठाते नजर आ रहे हैं।

समाचार में आगे पढ़ें..।

कांग्रेस की प्राण प्रतिष्ठा का बहिष्कार
अपनी ही पार्टी के नेताओं द्वारा उठाए गए प्रश्न
हाईकमान के फैसले पर पूर्व विधायक लक्ष्मण सिंह ने क्या कहा?

फैसला समझ से बाहर है..।’

कांग्रेस के पूर्व विधायक लक्ष्मण सिंह, दिग्विजय सिंह के भाई, भी हाईकमान के फैसला से असहमत हैं। उन्होंने कहा कि राजीव गांधी को उस समय के मुख्यमंत्री वीर बहादुर सिंह ने राम मंदिर बनाने की सलाह दी थी जब मंदिर के ताले खुले। राम मंदिर का कार्यक्रम अब क्यों बहिष्कार किया जा रहा है? यह निर्णय मेरी समझ से बाहर है। श्रीकृष्ण ने कहा कि इस निर्णय से हाईकमान को नुकसान होगा।

जब अनुचित सलाहकार आपको घेर लेते हैं तो..।’

उनका कहना था कि जिन लोगों ने राम मंदिर आंदोलन की लड़ाई लड़ी है, वे निर्धारित करेंगे कि कौन आएगा। मैं हाईकमान को बताना चाहता हूँ कि इस तरह का निर्णय न्यायसंगत नहीं है। कांग्रेस पार्टी के नेताओं कार्यक्रम में शामिल होना चाहिए, लेकिन गलत सलाहकार घेर लेते हैं, इस तरह का निर्णय होता है। कांग्रेस सिंह लक्ष्मण सिंह ने कहा कि बायकॉट करने के लिए कोई तर्क नहीं है। उनका प्रश्न था कि ये लोग राजीव जी की लाइन पर क्यों नहीं चल रहे हैं?

जब वे राम मंदिर गए, उन्होंने कहा कि हम हिंदू हैं और हमारी आस्था राम के प्रति है, इसलिए हम रूर जाएंगे। मैं जरूर मंदिर जाऊंगा और कांग्रेस के इस्तीफा दे रहे लोगों के साथ हूँ।

लक्ष्मण सिंह ने दिग्विजय सिंह को लेकर कहा कि वह धार्मिक हैं और ज्ञानी हैं। लेकिन इतनी बड़ी योजना का विरोध करना गलत है। राम को पूरी दुनिया मानती है मैं जाऊंगा और हर व्यक्ति को जाना चाहिए।

यह भी पढ़े – “रामलला हम आएंगे…” नारा देने वाले बाबा ने संघर्ष की कहानी बताई, रथ से अयोध्या जाएंगे।

Leave a Comment

कोंसी टीम पाहुची आईपीएल 2024 फाइनल में जाने धोनी ने इंतजार किया लेकिन कोहली की टीम नहीं आई, तो थाला ने ये निर्णय लिया Railway Painter Vacancy: रेलवे में 8वीं पास पेंटर के पदों पर भर्ती का नोटिफिकेशन जारी क्या भारत में बंद होगा WhatsApp? दिल्ली हाईकोर्ट में कंपनी ने दी चेतावनी औजार पर नारियल तेल लगाने के फायदे