नेटफ्लिक्स ने हटाई नयनतारा की फिल्म ‘अन्नपूर्णी’, मेकर्स ने मांगी माफी, विवादों में था फिल्म का ये सीन

नयनतारा की फिल्म ‘अन्नपूर्णी’ पिछले कुछ समय से चर्चा में है। फिल्म में नॉन वेज खाने से जुड़ा एक सीन विवाद ने विश्व हिंदू परिषद को बहुत परेशान कर दिया। फिल्म के निर्माताओं ने भावनाओं को दुखाने के लिए भी माफी मांगी है।

WhatsApp Group Join Now
Telegram Group Join Now
Instagram Group Join Now

नेटफ्लिक्स, एक ओटीटी प्लेटफॉर्म, ने लेडी सुपरस्टार नयनतारा की फिल्म ‘अन्नपूर्णी’ को हटा दिया है। इस फिल्म पर हाल ही में काफी बहस हुई है। 1 दिसंबर को थिएटर्स में रिलीज हुई फिल्म, 29 दिसंबर को नेटफ्लिक्स पर पहली बार रिलीज हुई। इस फिल्म को हाल ही में ‘हिंदुओं की धार्मिक भावनाओं को आहत करने’ का आरोप लगाया गया, जिसके कारण इसे लेकर विवाद हुआ।

विवाद इतना बढ़ गया कि सोमवार को मेकर्स और कास्ट के खिलाफ मुंबई में एक केस भी दर्ज किया गया। नेटफ्लिक्स के मुंबई कार्यालय के सामने हाल ही में विश्व हिंदू परिषद ने इस फिल्म को बैन करने की मांग की। अब नेटफ्लिक्स ने इसे हटा लिया है और निर्माताओं ने माफी मांगी है।

क्या थी विवाद की वजह?

“अन्नपूर्णी” में कई सीन्स को गलत बताया गया था। फिल्म एक ब्राह्मण लड़की की कहानी है जिसके पिता एक मंदिर में पुजारी हैं। लेकिन लड़की को सुपर शेफ बनना है, और इसके लिए उसे नॉन वेज खाना कुकना होगा। इस लड़की का एक दोस्त उसे नॉन वेज खाना बनाने और पकाने में मदद करता है।

एक सीन में, नयनतारा को नॉन वेज से परेशान करने के लिए उसका दोस्त बताता है कि भगवान राम और उनके भाई लक्ष्मण भी वनवास के दौरान नॉन वेज खाते थे। नयनतारा एक सीन में नॉन वेज पकाने के लिए हिजाब पहने नजर आती है।

मेकर्स ने मांगी माफी

जी स्टूडियो, फिल्म के को-प्रोड्यूसर, ने ‘अन्नपूर्णी’ विवाद पर एक पत्र लिखकर माफी मांगी और कहा कि फिल्म से विवादित सीन्स हटाए जाएंगे और जल्द ही एक संशोधित संस्करण जारी किया जाएगा। मेकर्स ने एक आधिकारिक पत्र में कहा, “फिल्म के को-प्रोड्यूसर्स के तौर पर हमारा इरादा हिंदू और ब्राह्मण समुदाय की भावनाओं को ठेस पहुंचाना नहीं था।” हम इन समुदायों से उनकी भावनाओं को आहत करने और असुविधा देने के लिए माफी मांगते हैं।’

8 जनवरी को हिंदू आईटी सेल के संस्थापक राकेश सोलंकी ने नायिका नयनतारा और जय, लेखक-निर्देशक निलेश कृष्णा और नेटफ्लिक्स इंडिया की हेड मोनिका शेरगिल के खिलाफ शिकायत दर्ज करवाई।

“जब पूरी दुनिया भगवान श्रीराम मंदिर में प्राण प्रतिष्ठा के उत्साह में हर्षित है, ऐसे समय पर ये एंटी-हिंदू फिल्म अन्नपूर्णी नेटफ्लिक्स पर रिलीज हुई है, जिसे जी स्टूडियो, नाद स्टूडियो और ट्राईडेंट आर्ट्स ने प्रोड्यूस किया है,” सोलंकी ने सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म एक्स पर अपनी शिकायत की नकल का चित्र शेयर किया।’

विश्व हिंदू परिषद ने मेकर्स की माफी पर जताई खुशी

विश्व हिंदू परिषद के प्रवक्ता श्रीराज नायर ने नेटफ्लिक्स से फिल्म को तुरंत हटाने की मांग करते हुए मेकर्स को लीगल और बजरंग दल स्टाइल एक्शन बताया। अब उन्होंने सोशल मीडिया पर ‘अन्नपूर्णी’ के लेखकों का पत्र शेयर किया।

उसने लिखा कि वे खुश हैं कि ‘मेकर्स ने अपनी गलती स्वीकार की’। “प्लीज ध्यान दें कि हमने कभी किसी फिल्म के क्रिएटिव फ्रीडम में दखल नहीं दिया,” नायर ने आगे लिखा। लेकिन हिंदू बैशिंग और मजाक उड़ाने की अनुमति नहीं दी जाएगी।’

यह भी पढ़े 

“रामलला हम आएंगे…” नारा देने वाले बाबा ने संघर्ष की कहानी बताई, रथ से अयोध्या जाएंगे।

Merry Christmas Review : सस्पेंस से भरी अनोखी लव स्टोरी है ‘मेरी क्रिसमस’, कटरीना-विजय की जोड़ी कमाल

Leave a Comment

कोंसी टीम पाहुची आईपीएल 2024 फाइनल में जाने धोनी ने इंतजार किया लेकिन कोहली की टीम नहीं आई, तो थाला ने ये निर्णय लिया Railway Painter Vacancy: रेलवे में 8वीं पास पेंटर के पदों पर भर्ती का नोटिफिकेशन जारी क्या भारत में बंद होगा WhatsApp? दिल्ली हाईकोर्ट में कंपनी ने दी चेतावनी औजार पर नारियल तेल लगाने के फायदे